DSV Ratings क्या काम करती है?

Direct Sellers के लिये...

नमस्कार!

भारत में अब अनेको एम. एल. एम. कम्पनियाँ चल रहीं हैं। और लोग उन कम्पनियो के साथ धड़ल्ले से जुडे़ जा रहे हैं। लेकिन उन हजारों कम्पनियो मे कौन कौन सी कम्पनियाँ जुडने के लायक है और कौन सी जुडने के लायक नहीं है। इस बात को तय करना अधिक्तर लोगो के लिये एक परेशानी का सबक बना हुआ है।

जो लोग इतने सक्षम है जो कि ये समझ सके कि उन्हे कौन सी कम्पनि के साथ जुडना है और कौन सी कम्पनि के साथ नहीं जुडना है उनके लिये तो ठीक है लेकिन बाकी लोगो के लिये ये काम बहुत ही आसान करने के लिये ये डी. एस. वी. रेटींगस (DSV Ratings i.e. Direct Selling Verification & Ratings) की एक सहायक पहल है।

डी. एस. वी. रेटींगस के द्वारा अलग अलग एम. एल. एम. कम्पनियों की 100 से भी ज्यादा Parameters पर जाँच परख की जाती है। और उन्ही के परिणाम स्वरुप हर Parameter पर पहले से तय मानको के आधार पर अंक दिया जाता है। जैसे किसी स्कूल में सबसे ज्यादा अंक पाने वाला विद्यार्थी प्रथम आता है ठीक उसी तरह इन मानको पर आधारित सबसे ज्यादा अंक पाने वाली कम्पनियों को भी प्रथम श्रेणी में रखा जाता है। और उसी के अधार पर इन कम्पनियों की Ratings भी निर्धारित की जाती है।

तो कुल मिला कर डी. एस. वी. रेटींगस के द्वारा आप सभी को एक सलाह के रुप में अलग अलग एम. एल. एम. कम्पनियों का TrustScores और Ratings बताया जा रहा है। इन TrustScores और Ratings के बारे में जान लेने के बाद हर किसी व्यक्ति के लिये ये तय करना बहुत आसान हो जायेगा कि उन्हे किस कम्पनि के साथ जुड़ना है या काम करना है।

डी. एस. वी. रेटींगस के द्वारा तय किये गये मानको के आधार पर जो अलग अलग एम. एल. एम. कम्पनियों (MLM Companies)  के समय समय पर आने वाले जो Payouts होते है उनकी सच्चाई को प्रमाणित करने के लिये DSV Ratings, एम. एल. एम. कम्पनियों से, दिये गये Pauouts का Data और Proofs को प्राप्त करने के बाद ही उसे Payout Score दिया जाता है। और इसलिये कुछ एम. एल. एम. कम्पनियों की Payout Ratings आपको शुन्य मिलेगी। और यह कदम बहुत हद तक सही भी है कि बिना किसी Proof के उन एम. एल. एम. कम्पनियों को Payout Ratings ना दिया जाय।

अब क्योंकि यहाँ डी. एस. वी. रेटींगस, आम व्यक्ति के साथ धन सम्बन्धित कोई धोकाधडी़ ना हो इसलिये भी कार्यरत है तो आम व्यक्तियों को उचित सलाह देना हमारी जिम्मेदारी भी है। और साथ ही साथ आम लोगो को भी यह समझना चाहिये कि जो एम. एल. एम. कम्पनियों हमें Proofs नहीं देगीं उन कम्पनियों का Payout Ratings शुन्य ही रहेगा।